खूबसूरत नैनीताल के इन 6 टूरिस्ट प्लेसेज को देखना न भूलें | Nainital travel guide

Nainital Travel Guide in Hindi
Nainital Complete Travel Guide in Hindi

भारत के उत्तराखंड राज्य में स्थित नैनीताल पर्यटकों (Tourists) को बहुत ज्यादा आकर्षित करता है। यह क्षेत्र पहाड़ों के ऊपर है और हर तरफ झीलों से घिरा हुआ है, जिस वजह से इसे झीलों के शहर के नाम से भी जाना जाता है। यहां के बर्फ से ढके हुए पहाड़ों की सुंदरता किसी को भी मंत्रमुग्ध करने के लिए काफी है।

इसलिए जब भी छुट्टी बिताने के लिए किसी Hill Station की बात होती है तो उसमें Nainital का नाम सबसे पहले आता है। अगर आपको पहाड़ी वातावरण, झीलें और हरियाली बहुत पसंद है तो आपको नैनीताल घूमने जरूर जाना चाहिए। ‌ आज की इस पोस्ट में हम आपको Nainital Tour की सारी जानकारी देंगे, जिससे कि आपकी यात्रा आपके लिए यादगार बन सके। 

Table of Contents

नैनीताल का इतिहास (History of Nainital in Hindi) –

History of Nainital in Hindi
History of Nainital in Hindi

अगर हम नैनीताल के इतिहास की बात करें तो इसका इतिहास सदियों पुराना है। इस क्षेत्र के बारे में एक कहानी प्रसिद्ध है कि जिस वक्त भगवान शिव देवी सती को जली हुई दशा में लेकर जा रहे थे, तो उस वक्त माता सती की बाई आंख गिर गई थी और तब से ही इस जगह का नाम नैन-ताल पड़ गया। बाद में इसे नैनीताल का नाम दिया गया। इस तालाब के उत्तरी तरफ नैना देवी का मंदिर भी बना हुआ है, जहां पर भक्त काफी मात्रा में जाते हैं। 

सन् 1839 ई. में पी बैरन नामक एक अंग्रेजी व्यापारी ने नैनीताल की खोज की थी। तब से लेकर आज तक यह स्थान लोगों के लिए एक बेहतरीन घूमने की Destination बन गई है।

इसे भी पढ़ें: History of Uttarakhand in Hindi -उत्तराखंड का इतिहास और संस्कृति: एक व्यापक गाइड

नैनीताल से जुड़े कुछ महत्वपूर्ण पॉइंट्स –

जगह का नामनैनीताल
कहां पर हैउत्तराखंड राज्य में
कौन से नाम से प्रसिद्ध हैझीलों के शहर 
समुद्र तल से ऊंचाई7,000 फीट 
कौन से मौसम में घूमने जाएंसाल भर जाया जा सकता है 
क्या-क्या देखेंनैनी झील, नैना देवी मंदिर, माल रोड, स्नो व्यू पॉइंट, नैना पीक 
कई जाने वाली एक्टिविटीजट्रैकिंग, कैंपिंग, बोटिंग, शॉपिंग, रोपवे सवारी, दर्शनीय स्थलों के दर्शन 
कहां ठहरेहोटल, कॉटेज में 
फेमस फूडभांग की चटनी, अरसा, गुलगुला, आलू के गुटके, रस, बाड़ी 
यात्रा में आने वाला खर्चा3500 रूपए से शुरू 
बोली जाने वाली भाषाएंगढ़वाली, कुमाऊनी और हिंदी
किस लिए फेमस है झील के किनारे बने हुए नैना देवी मंदिर के लिए 

नैनीताल की संस्कृति (Culture of Nainital) –

नैनीताल एक खूबसूरत शहर है, जहां पर हिंदू धर्म के लोग सबसे ज्यादा रहते हैं। इसके अलावा यहां पर मुस्लिम, सिख, क्रिश्चियन आदि लोग भी रहते हैं, लेकिन इनकी मात्रा काफी कम है। यहां पर रहने वाले लोगों को कुमाऊनी कहा जाता है। नैनीताल की संस्कृति में हमें विविध परंपरा और त्यौहारों की झलक दिखाई देती है।

नैनीताल के त्यौहार (Festivals of Nainital) –

नैनीताल में बहुत सारे त्यौहार मनाया जाते हैं, जिनके बारे में जानकारी इस तरह से है – 

  • नंदा देवी मेला
  • वसंत उत्सव
  • छोटा कैलाश मेला
  • हरियाला
  • फूलदेली
  • खतरूआ
  • दीपावली 
  • दशहरा 

नैनीताल का रहन सहन (Lifestyle of Nainital) –

नैनीताल में रहने वालों को कुमाऊनी के नाम से जाना जाता है, क्योंकि यह लोग सदियों से यहां रहते आ रहे हैं। इनका रहन-सहन बहुत ही साधारण सा होता है। यहां पर लोग ईंटों से बनी हुई छोटी झोपड़ियों या फिर लकड़ी से बने हुए Traditional घरों में रहना पसंद करते हैं। यहां पर क्योंकि Tourists बहुत ज्यादा आते हैं, इसलिए यहां के लोगों की आमदनी का यह मुख्य साधन है। लेकिन इसके अलावा भी यहां के लोग शिल्प कला और हस्तकला में माहिर होते हैं। 

नैनीताल की पारंपरिक वेशभूषा (Traditional Dress of Nainital) –

नैनीताल की महिलाएं लहंगा और पिछोरा पहनती हैं, जो कि यहां की एक Traditional पोशाक है। पर अब यहां की महिलाएं साड़ी भी पहनने लगीं हैं। शादी शुदा महिलाएं अपनी मांग को सिंदूर से भरकर रखती हैं और गले में मंगलसूत्र पहनती हैं। वहीं नैनीताल के पुरुष लंबी आस्तीन का कुर्ता और टोपी पहनते हैं। 

नैनीताल का नृत्य (Dance of Nainital) –

नैनीताल में नृत्य सबसे ज्यादा प्रसिद्ध है, जिनके बारे में जानकारी निम्नलिखित इस प्रकार से है – 

  • भांगड़ा नृत्य 
  • छोलिया नृत्य
  • छपेली नृत्य
  • लंगविर नृत्य 
  • भोटिया नृत्य 

नैनीताल का खानपान (Famous Food of Nainital) –

Famous Food of Nainital
Famous Food of Nainital : Image source

नैनीताल में बहुत सारे Restaurants और Hotels खुले हुए हैं। इसके अलावा यहां Street Food भी मिलता है। नैनीताल के भोजन में मसाले का अनूठा Combination होता है, जो यहां के व्यंजनों को Special बनाता है। यहां के कुछ लोकप्रिय व्यंजन (Famous Foods) निम्नलिखित इस प्रकार से हैं –

अरसा (Arsa) :-

जिन लोगों को मीठा पसंद होता है उन्हें यह Traditional पहाड़ी मिठाई बहुत पसंद आती है। इस मिठाई को गुड़, चावल और सरसों के तेल से तैयार करके खास अवसरों पर खाया जाता है। इसका स्वाद बहुत ही मजेदार होता है, जिसकी वजह से ज्यादातर लोगों को यह मिठाई बहुत अच्छी लगती है। 

बाल मिठाई (Bal Mithai) :-

नैनीताल की यह एक बहुत ही Famous कुमाऊनी मिठाई है, जिसका Taste बहुत ही गजब का होता है। इस डिश को बनाने के लिए चीनी और खोये का इस्तेमाल किया जाता है।

रस (Ras) :-

रस नैनीताल का मुख्य पेय पदार्थ है, जो कि काले रंग का होता है। यह एक तरह का सूप है, जो साबूत दालों को मिलाकर तैयार किया जाता है। 

भट्ट की चुरकनी (Bhatt Ki Churkani) :-

इस Dish को काली राजमा और सेम से तैयार किया जाता है। इसकी खुशबू बहुत ही ज्यादा तेज होती है और इसे आमतौर पर कड़कड़ाती हुई सर्दियों में खाया जाता है। 

बाड़ी (Baadi) :-

नैनीताल में बाड़ी फूड को भी बहुत चाव से खाया जाता है। इसका रंग काला होता है। इसे आमतौर से कुलथा की दाल के साथ खाया जाता है। इस पहाड़ी डिश का स्वाद गजब का होता है। 

आलू के गुटके (Aalu Ke Gutke) :-

आलू के गुटके एक बहुत ही Simple सी डिश है, जो नैनीताल जैसे पहाड़ी इलाके में बहुत Famous है। यह एक तरह से सूखे आलू की सब्जी है, जिसको पूरी या फिर रोटी के साथ खाते हैं। यह डिश यहां पर बहुत ही आसानी से मिल जाती है। अगर आप नैनीताल के टूर पर गए हो तो इसका स्वाद जरूर लें। 

इन Famous Dishes के अलावा नैनीताल में निम्नलिखित खानों का भी टेस्ट लिया जा सकता है – 

  • भांग की चटनी या तिल की चटनी (Bhang ki Chutney or Til ki Chatni)
  • गुलगुला (Gulgula)
  • मोमोज और थुपका (Momos And Thupka) 
  • बन टिक्की (Bun Tikki) 

नैनीताल से जुड़े कुछ रोचक तथ्य (Interesting Facts About Nainital) –

  • नैनीताल को झीलों का शहर कहा जाता है क्योंकि यहां पर बहुत सारी पहाड़ियां और झीलें बनी हुई हैं।
  • समुद्र तल से तकरीबन 1938 किलोमीटर की ऊंचाई पर बने हुए नैनीताल में साल भर बहुत अच्छा वातावरण रहता है, जो प्रकृति प्रेमियों के लिए स्वर्ग से कम नहीं है।
  • नैनीताल का मतलब है द लेक ऑफ़ द आई (The Lake of the Eye), क्योंकि यहां पर देवी सती की आंख गिर गई थी और तभी से इस स्थान का नाम नैनीताल पड़ गया था। 
  • भारत के 51 शक्तिपीठों में से एक नैना देवी का मंदिर Nainital  में बना हुआ है। 

नैनीताल घूमने का सही समय (Best Time to Visit Nainital) –

अगर आप नैनीताल घूमने जाना चाहते हैं तो इसके लिए सबसे अच्छा समय March से लेकर June के बीच तक का होता है। इसके अलावा Spring Season में भी इस जगह पर घूमा जा सकता है। इन दिनों यहां का Temperature 11°C से लेकर 28°C तक रहता है। इससे मौसम काफी सुहावना बन जाता है। लेकिन क्योंकि यह Peak Season होता है, इसलिए यहां पर काफी भीड़ होती है। ऐसे में Nainital की किसी भी जगह पर आपको Discount नहीं मिलेगा।

नैनीताल में घूमने लायक जगह (Places to Visit in Nainital) –

कई झीलों से घिरे हुए नैनीताल में आपको बहुत सारी घूमने लायक जगह मिल जाएंगी, जो आपको अपनी सुंदरता में बांध कर रख लेंगीं। यहां पर घूमने के लिए सबसे Famous Places इस प्रकार से हैं – 

(1) नैनी झील (Naini Lake) :-

नैनीताल में नैनी झील Tourists को काफी ज्यादा Attract करती है और इसे नैनीताल झील भी कहते हैं। इसके बारे में ऐसी कहावत मशहूर है कि इस झील में जो कोई डुबकी लगाता है उसे मानसरोवर नदी में डुबकी लगाने जितना पुण्य मिलता है। यह विशाल और शानदार झील 64 शक्तिपीठों में से एक है। 

यह झील दो अलग-अलग भागों में बंटी हुई है उत्तरी भाग और दक्षिणी भाग। उत्तरी भाग को मल्लीताल कहते हैं और दक्षिणी भाग को तल्लिताल कहते हैं। अद्भुत और लुभावने पहाड़ों के बीच में बनी हुई यह झील पर्यटकों को इसलिए आकर्षित करती है क्योंकि यहां का वातावरण बहुत ही शांत और मंत्रमुग्ध करने वाला होता है। यहां पर बहुत सारी Activities की जा सकती हैं, जैसे कि – नाव की सवारी, सनसेट का नजारा, झील के आसपास सैर करना, फोटोग्राफी इत्यादि। 

(2) माल रोड (Mall Road) :-

माल रोड एक सड़क है, जो हर वक्त चहल-पहल से भरी रहती है। यह सड़क नैनी झील के पास बनी हुई है। यहां उत्तराखंड के Culture और Traditional Foods का मिश्रण देखा जा सकता है। अगर आपको नैनीताल में कुछ खरीदारी करनी है तो माल रोड इसके लिए बेस्ट है। यहां पर आप गर्म कपड़े खरीदने के अलावा और भी बहुत सारी चीज़ें खरीद सकते हैं। 

(3) नैना देवी मंदिर (Naina Devi Temple) :-

नैनीताल की नैनी झील के किनारे पर Famous नैना देवी मंदिर बना हुआ है। यह मंदिर नैनीताल में सबसे ज्यादा देखने वाले तीर्थ स्थलों में से एक है। यह मंदिर नैना पहाड़ी के ऊपर बना हुआ है। इस मंदिर को देवी नैना को समर्पित किया गया है। इस मंदिर के प्रति लोगों के दिलों में बहुत श्रद्धा और एक खास जगह है, जिसकी वजह से यहां पर पूरे साल भारी मात्रा में तीर्थयात्री आते हैं। इस मंदिर की वास्तुकला देखते ही बनती है, क्योंकि इसकी नक्काशी, रंगीन सजावट वाले स्तंभ और आधुनिक शैली काफी आकर्षक है। 

(4) टिफिन टॉप (Tiffin Top) :-

टिफिन टॉप नैनीताल का Popular Tourist Place है। इसे डीरोथी की सीट के नाम से भी जाना जाता है। यह लगभग 2292 मीटर की ऊंचाई पर बना हुआ है। इस जगह तक पहुंचने के लिए आपको कोई Problem नहीं होगी, क्योंकि आप पैदल चलकर या फिर टट्टू पर बैठकर भी इस Place तक पहुंच सकते हैं। इस स्थान से नैनीताल शहर के बहुत ही लुभावने नजारे आपको देखने को मिलते हैं। इसके अलावा आप इस स्थान पर पहुंच कर ट्रैकिंग, फोटोग्राफी, रॉक क्लाइंबिंग जैसी Activities भी कर सकते हैं। 

(5) नैना पीक (Naina Peak) :-

नैनीताल में स्थित नैना पीक एक बहुत ही लुभावना और रोमांचक Tourist Place है। इस चोटी का नाम पहले चाइना पीक (China Peak) था। लेकिन 1962 ई. के दौरान जब भारत चीन की जंग हुई थी तो तब उसके बाद इसका नाम नैना पीक कर दिया गया था। इस चोटी की ऊंचाई लगभग 2615 मीटर है। यहां के आकर्षक गांव और सुरम्य जंगल बहुत ही लुभावने हैं, जो लोगों को भारी तादाद में अपनी तरफ Attract करते हैं। इस जगह से हिमालय पर्वत की बर्फ से ढकी हुई चोटियां और नैनी झील का बहुत ही शानदार नजारा देखने को मिलता है। 

(6) सेंट जॉन चर्च (Saint John Church) :-

नैनीताल में सेंट जॉन चर्च एक बहुत ही जाना माना और खूबसूरत Tourist Place है। इस पर्यटन स्थल को ऐतिहासिक रूप से काफी महत्वपूर्ण माना जाता है। यहां पर यूरोपीय शैली की वास्तुकला देखने को मिलती है, क्योंकि इसकी स्थापना सन् 1844 ई. में ब्रिटिश शासको ने की थी। इस चर्च को Traditional यूरोपीय शैली में Design किया गया है। सेंट जॉन चर्च के आसपास लंबे-लंबे देवदार के पेड़ हैं, जहां पर आप सुकून भरा टाइम गुजार सकते हैं। 

इन Famous Places के अलावा आप नैनीताल में निम्नलिखित जगहों पर भी घूम सकते हैं –

  • पंगोट और किलबरी पक्षी अभयारण्य (Pangot and Kilbury Bird Sanctuary)
  • इको केव गार्डन (Eco Cave Garden) 
  • पंडित जीबी पंत हाई एल्टीट्यूड जू (Pandit GB Pant High Altitude Zoo)
  • गवर्नर हाउस (Governor House) 
  • स्नो व्यू प्वाइंट (Snow View Point) 
  • लैंड्स एंड (Lands End) 
  • जिम कॉर्बेट नेशनल पार्क (Jim Corbett National Park)
  • कैंची धाम (Kainchi Dham)
  • भीमताल झील (Bhimtal Lake)
  • मुक्तेश्वर (Mukteshwar)
  • रानीखेत (Ranikhet) 

इसे भी पढ़ें: स्विट्जरलैंड से कम नहीं है उत्तराखंड का चोपता हिल स्टेशन | Travel in Chopta Uttarakhand

नैनीताल में रुकने की जगह (Best Places to Stay in Nainital) –

नैनीताल में रुकने के लिए एक नहीं, बल्कि बहुत सारे ऑप्शन आपको मिल जाएंगे। यहां पर बहुत सारे होटल बने हुए हैं, जो कि सस्ते भी हैं और महंगे भी हैं। इसलिए आप अपने Budget के हिसाब से अपने पसंद के Hotel में ठहर सकते हैं। लेकिन इस बात का ध्यान जरूर रखें कि जब आप पीक सीजन में नैनीताल घूमने का Plan बनाएं तो ऐसे में बेहतर होगा कि आप अपने रहने का बंदोबस्त पहले से ही कर लें। 

नैनीताल कैसे जाएं (How to Reach Nainital) –

भारत के किसी भी राज्य या फिर शहर से नैनीताल तक पहुंचना बहुत ही आसान है। यह क्षेत्र परिवहन नेटवर्क से बहुत अच्छे से जुड़ा हुआ है, इसलिए Train, Bus या फिर Airplane से इस खूबसूरत जगह तक आसानी से पहुंचा जा सकता है। नैनीताल पहुंचने के लिए पूरी जानकारी इस तरह से है –

सड़क द्वारा (By Road) :-

यदि आप नैनीताल हिल स्टेशन By Road पहुंचना चाहते हैं तो इसके लिए आप बस या फिर अपनी कार से Travel कर सकते हैं। दरअसल नैनीताल भारत के लगभग सभी शहरों से और राज्यों से जुड़ा हुआ है। इसके लिए भारत के अधिकतर सभी शहरों और राज्यों से नैनीताल तक के लिए बसें और टैक्सियां चलती हैं। ‌

ट्रेन द्वारा (By Train) :-

अगर आप नैनीताल रेल की मदद से पहुंचना चाहते हैं तो इसके लिए सबसे पास का Railway Station काठगोदाम है। यह रेलवे स्टेशन नैनीताल से तकरीबन 35 किलोमीटर की दूरी पर बना हुआ है। इस तरह से आप अपने राज्य या शहर से काठगोदाम तक का सफर कर सकते हैं और आगे का सफर बस से करके नैनीताल तक पहुंच सकते हैं। 

हवाई जहाज द्वारा (By Airplane) :-

अगर आप नैनीताल Flight से पहुंचना चाहते हैं तो इसके लिए नैनीताल में कोई Airport नहीं है। इसलिए आपको हवाई जहाज से सबसे पहले पंतनगर तक पहुंचना होगा, जोकि नैनीताल से तकरीबन 65 किलोमीटर की दूरी पर है। उसके बाद आगे का सफर करने के लिए आपको Taxi या फिर बस लेनी होगी। 

नैनीताल घूमने के लिए बजट (Budget Trip to Nainital) –

नैनीताल घूमना आपकी जेब पर भारी नहीं पड़ता, क्योंकि इस जगह पर आपको बहुत ज्यादा पैसे खर्च करने की आवश्यकता नहीं होती है। आप अपनी ट्रिप को 3,500 से लेकर 4,000 रुपए तक में प्लान कर सकते हैं। इसके अलावा आप जो भी Shopping करते हैं या फिर कोई एक्टिविटी करते हैं तो उसके लिए आपको अलग से पैसे खर्च करने होंगे। 

इसे भी पढ़ें: औली का इतिहास, संस्कृति, और घूमने वाले प्रमुख पर्यटन | Travel in Auli Uttarakhand

नैनीताल टूर पैकेज (Nainital Tour Packages) –

नैनीताल घूमने के लिए सबसे अच्छा तरीका है कि आप किसी Tour and Travel Company की मदद ले लें। ट्रैवल कंपनियों में हर इंसान की जरूरत और उसके बजट के अनुसार बहुत सारे Tour Packages अवेलेबल होते हैं। आप 3,500 रूपए का या फिर उससे ज्यादा का पैकेज ले सकते हैं। 

Flights from Delhi to Dehra Dun for the next few days

Departure atStopsFind tickets
29 April 2024DirectTickets from 6 007
28 April 2024DirectTickets from 6 572
27 April 2024DirectTickets from 7 232
21 April 2024DirectTickets from 7 446
26 April 2024DirectTickets from 7 500
21 April 2024DirectTickets from 8 024
29 April 20241 StopTickets from 11 341
28 April 20241 StopTickets from 12 597
26 April 20241 StopTickets from 12 860
27 April 20241 StopTickets from 13 015
21 April 20241 StopTickets from 18 658
28 April 20242 StopsTickets from 19 455
27 April 20242 StopsTickets from 20 273

FAQs -Nainital travel guide in Hindi

Q. नैनीताल कहां पर बना हुआ है?

A. नैनीताल उत्तराखंड राज्य में बना हुआ है, जो कि एक फेमस हिल स्टेशन है। 

Q. नैनीताल में कितने दिन घूमने की यात्रा प्लान करनी चाहिए?

A. नैनीताल एक ऐसी खूबसूरत जगह है जहां पर एक बार आप चले जाएंगे तो आपका मन जल्दी घर वापस लौटने का नहीं करेगा। आपको इस जगह को घूमने के लिए कम से कम 3 दिन का Tour Plan तो जरूर करना चाहिए। 

Q. नैनीताल कहां पर स्थित है और यह क्यों प्रसिद्ध है?

A. नैनीताल उत्तराखंड राज्य में स्थित है और यह नंदा देवी मंदिर के कारण प्रसिद्ध है। 

Q. बर्फबारी देखने के लिए नैनीताल कब जाना चाहिए?

A. बर्फबारी देखने के लिए नैनीताल दिसंबर से लेकर फरवरी तक के महीने में जाया जा सकता है। 

Q. क्या बरसात के मौसम में नैनीताल घूमने जाना चाहिए?

A. वैसे तो आप नैनीताल पूरे साल कभी भी जा सकते हैं, लेकिन बरसात के मौसम में इस पहाड़ी इलाके में नहीं जाना चाहिए। बारिश होने की वजह से यहां पर Landslide की समस्या के साथ-साथ सड़के भी बंद हो जाती हैं, जो कि आपकी यात्रा को काफी असहज बना सकती हैं।

निष्कर्ष (Conclusion) –

इस आर्टिकल में हमने आपको नैनीताल से जुड़ी हुई सारी जानकारी (Nainital Tourism) दी है। हमने आपको इसमें नैनीताल का इतिहास, वहां की संस्कृति घूमने वाली जगहें, त्यौहार, नृत्य, लाइफस्टाइल, घूमने जाने का सबसे अच्छा समय, नैनीताल का खाना आदि के बारे में विस्तार से बताया है।

इसके साथ ही हमने आपको नैनीताल तक कैसे पहुंचे, नैनीताल में रहने की जगह, नैनीताल में घूमने का कितना खर्चा आएगा, नैनिताल का टूर पैकेज आदि  के बारे में भी बता दिया है।  हमें पूरी आशा है कि आपको यह पोस्ट जरूर Helpful लगी होगी। यदि आपको हमारा Nainital Travel Guide का यह आर्टिकल पसंद आया हो तो आप इसे सोशल मीडिया पर भी जरूर शेयर करें,

Thanks! 

One comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

कैंची धाम – नीम करोली बाबा से अनसुलझे जुड़े रहस्य। उत्तराखंड में घूमने वाले प्रमुख पर्यटन स्थल ऋषिकेश कि बजट ट्रिप कैसे प्लान करें हरिद्वार में फ्री धर्मशाला कैसे ढूढ़े
कैंची धाम – नीम करोली बाबा से अनसुलझे जुड़े रहस्य। उत्तराखंड में घूमने वाले प्रमुख पर्यटन स्थल ऋषिकेश कि बजट ट्रिप कैसे प्लान करें हरिद्वार में फ्री धर्मशाला कैसे ढूढ़े