अगर लेना चाहते हैं स्विजरलैंड का मजा तो कश्मीर घूमना न भूलें। Jammu and Kashmir travel guide

Jammu and Kashmir travel guide in hindi
Jammu and Kashmir travel guide in Hindi

क्या आपने इस धरती का स्वर्ग कहे जाने वाले जम्मू कश्मीर की यात्रा की है? यदि नहीं तो आपको इस अत्यधिक सुंदर राज्य घूमने जरूर जाना चाहिए। यह हमारे देश का एक ऐसा हिस्सा है, जिसकी सुंदरता की तारीफ करने के लिए शब्दों की कमी पड़ जाती है। जम्मू कश्मीर की राजधानी का नाम श्रीनगर है, जो हमारे देश भारत के सबसे ज्यादा आकर्षक घूमने की जगहों (Place) में से एक है। ‌यदि आप जम्मू-कश्मीर Tour पर जाना चाहते हैं तो अच्छा होगा कि आपके पास इस राज्य की सारी जानकारी हो। तो जम्मू और कश्मीर के बारे में सारी जानकारी पाने के लिए हमारे आज के इस आर्टिकल को अंत तक पूरा पढ़ें।

इसे भी पढ़ें: बर्फ से ढकी पहाड़ियां और झीलें हैं पसंद तो लद्दाख जरूर जाएं

जम्मू कश्मीर का इतिहास क्या है (History of Jammu Kashmir in Hindi) –

जम्मू कश्मीर भारत के उत्तरी भाग में बना हुआ है और यह एक बहुत ही खूबसूरत राज्य है। प्राचीन काल में इस प्रदेश में हिंदू और बौद्ध संस्कृतियों का बोलबाला था। पहले जम्मू कश्मीर एक हिंदू राज्य था। उसके बाद फिर यहां पर बौद्ध धर्म भी फैल गया था। लगभग तीसरी शताब्दी के दौरान जम्मू कश्मीर में सम्राट अशोक का शासन रह चुका है। लेकिन फिर यहां पर बौद्ध धर्म के अनुयाई ज्यादा हो गए। उसके बाद फिर यह राज्य कुषाणों के अधीन हो गया था। फिर छठी शताब्दी में उज्जैन के महाराज विक्रमादित्य ने जम्मू कश्मीर पर राज किया और उस दौरान फिर से यहां पर हिंदू धर्म ने वापसी की। 

बाद में फिर मध्यकाल के समय कश्मीर पर मुस्लिम शासकों का राज हो गया था। इस प्रकार से 1589 ई. में यहां पर मुगलों ने शासन किया था। लेकिन जब मुगल साम्राज्य का विखंडन हुआ तो तब इस पर पठानों ने अपना कब्जा जमा लिया। उसके बाद फिर 1814 ई. में पठानों को पंजाब के शासक महाराणा रणजीत सिंह ने हरा दिया और इस तरह से जम्मू और कश्मीर में फिर सिख साम्राज्य आ गया। 

फिर साल 1846 ई. से लेकर साल 1947 ई. तक एक ब्रिटिश शाही रियासत बन गया था, क्योंकि उस समय वहां पर अंग्रेजों का शासन हुआ करता था। फिर बाद में जब भारत आजाद हो गया और फिर विभाजन के दौरान से ही पाकिस्तान, चीन और भारत के बीच में इस राज्य को लेकर विवाद रहा है। भारत ने इसे अब केंद्र शासित प्रदेश घोषित कर दिया है। ‌

इसे भी पढ़ें: समुद्री खानों और आइलैंड का है शौक तो जरूर घूमें अंडमान

जम्मू कश्मीर राज्य से जुड़े हुए कुछ महत्वपूर्ण पॉइंट्स

राज्य का नामजम्मू कश्मीर 
राजधानी का नामश्रीनगर 
कब स्थापना हुई14 मई 1954 ई.
क्षेत्रफल222,236  किलोमीटर 
कुल जिले22
कुल जनसंख्या12.25 मिलियन 
जनसंख्या का घनत्व56 प्रति वर्ग किलोमीटर 
साक्षरता67% 
बोली जाने वाली भाषाएंउर्दू, अंग्रेजी, कश्मीरी, डोगरी, हिंदी, पश्तो, गोजरी, पहाड़ी इत्यादि। 
किस लिए फेमस है जम्मू-कश्मीर अपनी अद्भुत सुंदरता के लिए फेमस है। 

जम्मू कश्मीर राज्य की संस्कृति (Culture of Jammu and Kashmir in Hindi) –

जम्मू और कश्मीर राज्य में अनेक प्रकार की संस्कृति जैसे कि हिंदू, इस्लामी, फारसी, सिख और बौद्ध संस्कृतियों की झलक दिखती है। इसलिए यह कहना बिल्कुल भी गलत नहीं होगा कि जम्मू कश्मीर की संस्कृति में अनेकों संस्कृतियों का मिश्रण देखने को मिलता है। यहां पर रहने वाले लोग आमतौर पर कश्मीरी, उर्दू और पहाड़ी भाषा बोलते हैं। कश्मीर के लोग उत्तम दर्जे के कालीन बनाते हैं।

इनके बनाए हुए कालीन भारत में ही नहीं बल्कि पूरी दुनिया में Famous है। यहां पर विशेषतौर से रेशम के कालीन, गलीचे और शॉल बहुत खूबसूरती के साथ बुने जाते हैं। कश्मीर के लोग कला और शिल्प के माहिर होते हैं और इसी वजह से वे साधारण सी चीजों को भी बहुत सुंदर और अद्भुत बना देते हैं। 

इसे भी पढ़ें: खूबसूरती और रोमांस से भरा लक्षद्वीप किसी जन्नत से कम नहीं

जम्मू कश्मीर राज्य के त्यौहार (Festivals of Jammu and Kashmir in Hindi) –

जम्मू कश्मीर राज्य में अलग-अलग धर्मों के लोग रहते हैं, इसलिए यहां पर अनेकों त्यौहार (Festivals) मनाए जाते हैं, जैसे की उर्स, ईद उल अजहा, ईद उल फितर, हेमिस महोत्सव, बैसाखी, टयूलिप फेस्टिवल, शिकारा महोत्सव, गुरेज महोत्सव, लोहड़ी इत्यादि। यहां पर सारे त्यौहार बहुत ही हंसी खुशी के साथ और मिल जुलकर Celebrate किए जाते हैं। 

जम्मू कश्मीर का रहन सहन (Lifestyle of Jammu and Kashmir in Hindi) –

जम्मू कश्मीर राज्य के लोग मिलनसार होते हैं और एक दूसरे के सुख दुख में काम आते हैं। यहां के लोग आमतौर पर बागवानी और कृषि करते हैं। लेकिन पर्यटन यहां की अर्थव्यवस्था का मुख्य आधार है। लेकिन आतंकवाद की वजह से जम्मू कश्मीर की अर्थव्यवस्था अस्त-व्यस्त हो गई थी। पर अब यहां के हालात में कुछ सुधार होना शुरू हुआ है। इसके अलावा जम्मू कश्मीर के लोग दस्तकारी में भी माहिर होते हैं और वे आकर्षक कालीन और गर्म कपड़े बनाते हैं। कुछ लोग भेड़ बकरियां पालते हैं। 

जम्मू कश्मीर के लोगों की पारंपरिक वेशभूषा (Traditional Dress of Jammu and Kashmir in Hindi) –

जम्मू कश्मीर के लोग कढ़ाई वाले और ऐसे कपड़े पहनते हैं जो ठंडी जलवायु के अनुसार हो। यहां के लोग ज्यादातर रेशम और ऊन से बने हुए कपड़े पहनते हैं, जिन पर जटिल कढ़ाई और कपास की डिजाइनिंग होती है। यहां पर पारंपरिक रूप से फेरन नाम का परिधान पहना जाता है, जो कि पुरुषों और महिलाओं दोनों के लिए होता है। इसके अलावा सिर पर टोपी पशमीना की तरंगा बेल्ट और महिलाओं के रंगीन दुपट्टे बहुत ज्यादा लोकप्रिय हैं।  

जम्मू कश्मीर के लोगों का नृत्य (Dance of Jammu Kashmir) –

जम्मू कश्मीर में रहने वाले लोगों के नृत्य कई प्रकार के हैं, जिनसे वो अपना मनोरंजन (Entertainment) करते हैं। यहां के रहने वाले लोगों के पारंपरिक लोक नृत्य बहुत ज्यादा प्रसिद्ध है, जो कि कश्मीरी संस्कृति का एक बहुत ही जरूरी हिस्सा है। जम्मू-कश्मीर के नृत्यों के नाम इस प्रकार से हैं – 

  • रउफ लोक नृत्य
  • बच्चा नगमा लोक नृत्य
  • दुमहल लोक नृत्य 
  • कुद लोक नृत्य 
  • रूफ
  • हाफिजा
  • वुगी नचुन 

जम्मू कश्मीर राज्य का खान पान (Best Food of Jammu and Kashmir) –

जम्मू कश्मीर राज्य का खानपान बहुत ही स्वादिष्ट (Tasty) होता है और यहां के खानों में अनेकों तरह के मसालों का प्रयोग किया जाता है। यहां के कुछ लोकप्रिय व्यंजन (Food) निम्नलिखित इस प्रकार से हैं –

  • कश्मीरी कहवा
  • शब देग
  • तबखमाज़
  • दम आलू
  • कुलथी की दाल
  • आब गोश्त
  • रोगन जोश 
  • मोदुर पुलाव 
  • मात्सचगंड
  • मेम्ने यखनी
  • कश्मीरी मुजी गाड़ 
  • गोश्तबा
  • ल्योदुर सचमन 

जम्मू कश्मीर घूमने जाने का सबसे बेहतरीन समय (Best Time to Visit Jammu Kashmir) –

हालांकि जम्मू कश्मीर का Tour किसी भी महीने में किया जा सकता है। पर अगर बर्फ का लुत्फ उठाना हो, तो तब आपको दिसंबर से जनवरी तक के महीनों में जम्मू कश्मीर जाना चाहिए। वैसे जम्मू कश्मीर घूमने के लिए मार्च से लेकर मई का महीना सबसे अच्छा माना जाता है। इन महीनों में इस राज्य का तापमान 15 डिग्री सेल्सियस से लेकर 30 डिग्री सेल्सियस तक होता है, जोकि हानिकारक नहीं होता। इतना ही नहीं इस दौरान आप जम्मू कश्मीर की बेदाग प्राकृतिक सुंदरता का नजारा बहुत अच्छी तरह से कर सकते हैं। 

जम्मू कश्मीर में घूमने लायक जगह (Best Places to Visit in Jammu Kashmir) –

जम्मू एंड कश्मीर में ऐसी बहुत सारी जगह है, जो घूमने के लिए बेस्ट हैं। यहां पर चारों तरफ फैली हुई सुंदरता, दिल मोह लेने वाले घास के मैदान, क्रिस्टल जैसी साफ झीलें, सेब के बाग और हर चीज इतनी अद्भुत है कि किसी को भी अपना दीवाना बना ले। यहां पर वैसे तो हर जगह घूमने लायक है, लेकिन सबसे ज्यादा लोकप्रिय घूमने की जगह के नाम निम्नलिखित हैं –

  1. सोनमर्ग 
  2. श्रीनगर 
  3. वैष्णो देवी मंदिर
  4. पहलगाम
  5. युसमर्ग
  6. पटनीटॉप
  7. सनासर
  8. डोडा
  9. गुलमर्ग
  10. किश्तवाड़ 

इसे भी पढ़ें: सिक्किम का इतिहास, संस्कृति, खान पान, रीति रिवाज और सामान्य ग्यान

जम्मू कश्मीर कैसे जाएं (How to Reach Jammu Kashmir) –

यदि आप जम्मू कश्मीर के टूर का Plan कर रहे हैं तो इसके लिए आपको हवाई जहाज से और सड़क से Travel करने का मौका मिलता है। यहां पर हम आपको जम्मू एंड कश्मीर की यात्रा के लिए यातायात की जानकारी दे रहे हैं, जो कि निम्नलिखित है –

  • हवाई जहाज से भारत में जितने भी बड़े शहर हैं वहां से श्रीनगर हवाई अड्डे के लिए हवाई जहाज से यात्रा की जा सकती है। श्रीनगर हवाई अड्डे पर पहुंचने के बाद जम्मू कश्मीर के लिए कैब किराए पर ली जा सकती है।
  • सड़क मार्ग से – जम्मू कश्मीर सड़क से भी जाया जा सकता है और इसके लिए आप अपने राज्य या शहर से बस ले सकते हैं। इसके अलावा बता दें कि बहुत सी लग्जरी और निजी डीलक्स बसें, जम्मू कश्मीर राज्य सड़क परिवहन निगम के द्वारा चलाई जाती हैं। उनके द्वारा आप आसानी से इस प्रदेश तक पहुंच सकते हैं। 
  • ट्रेन से – जम्मू कश्मीर जाने के लिए दिल्ली से कई ट्रेनें चलती हैं, जैसे की नई दिल्ली-जम्मू तवी राजधानी एक्सप्रेस, जम्मू मेल और जम्मू तवी एक्सप्रेस। इस तरह से आप जम्मू तवी रेलवे स्टेशन पहुंचने के बाद आगे का सफर प्राइवेट टैक्सी या फिर प्राइवेट बस के द्वारा कर सकते हैं। 

इसे भी पढ़ें: लक्षद्वीप कि बजट यात्रा

FAQ’s

Q . भारत में जम्मू कश्मीर कहां पर स्थित है? 

भारत के सबसे उत्तरी भाग में जम्मू-कश्मीर स्थित है। 

Q. जम्मू कश्मीर में प्राचीन समय में कौन-कौन सी संस्कृतियों का पालन रह चुका है? 

जम्मू कश्मीर में प्राचीन काल में हिंदू और बौद्ध संस्कृतियों का पालन रह चुका है।

Q. मुस्लिम वंशों का शासन जम्मू कश्मीर में किस काल में रहा है? 

मुस्लिम वंशों का शासन जम्मू कश्मीर में मध्यकाल में काल में रहा है।

Q. जम्मू-कश्मीर कैसे पहुंचे?

जम्मू कश्मीर पहुंचने के लिए फ्लाइट, या फिर बस की Help ली जा सकती है। 

Q.  जम्मू-कश्मीर कब घूमने जाएं?

जम्मू कश्मीर घूमने के लिए सबसे बेहतरीन समय मार्च से लेकर मई तक का है। 

इसे भी पढ़ें: Travel Vlogging क्या है ? और इससे पैसे कैसे कमाएं

निष्कर्ष (Conclusion) –

इस पोस्ट में हमने आपको जम्मू कश्मीर से जुड़ी सारी जानकारी दी। हमने आपको बताया कि जम्मू कश्मीर का इतिहास क्या है और वहां की संस्कृति क्या है। इसके अलावा हमने आपको बताया कि जम्मू कश्मीर के लोगों का खान-पान क्या है और यदि आप जम्मू कश्मीर जाना चाहते हैं तो इसके लिए आप कैसे पहुंच सकते हैं। हमने अपने इस आर्टिकल में आपको यह भी जानकारी दी कि आप कौन से मौसम में जम्मू कश्मीर जा सकते हैं। हमें पूरी उम्मीद है कि हमारी यह पोस्ट आपके लिए काफी ज्यादा Helpful रही होगी। यदि आपको हमारा यह आर्टिकल अच्छा लगा हो तो इसे सोशल मीडिया पर जरूर Share करें,

Thanks!

4 Comments

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

श्रीलंका में घूमने वाले प्रमुख पर्यटन स्थल। भूटान में घूमने वाले प्रमुख पर्यटन स्थल | भूटान से 10 जुड़े रोचक तथ्य (Interesting facts About Bhutan) 10 ट्रेवल कंटेंट क्रिएटर जो महीनों का लाखों कमाते है। कैंची धाम – नीम करोली बाबा से अनसुलझे जुड़े रहस्य।