तमिलनाडु का इतिहास, संस्कृति और घूमने वाले प्रमुख पर्यटन स्थल – Tamilnadu Travel Guide in Hindi

Tamilnadu Travel Guide in Hindi
Tamilnadu Travel Guide in Hindi

तमिलनाडु एक ऐसा राज्य है, जहाँ आप घूमने के साथ साथ उनकी परम्पराओं और संस्कृति के बारे में भी जान सकते हैं। वहां लोग अपना अपना कार्य करते हुए भी किस तरह अपनी जमीन से जुड़े रहते हैं, यह भी आपको तमिलनाडु की धरती पर देखने को मिलेगा। यदि आप Trip Plan करने से पहले Tamil Nadu के बारे में और जानना चाहते हैं तो इस लेख को पूरा पढ़े। 

तमिल नाडु भारत के दक्षिण में बसा हुआ एक राज्य है, जो अपने प्राचीन मंदिरों के लिए जाना जाता है। यहाँ का मीनाक्षी मंदिर विश्व में प्रसिद्ध है। यहाँ के सुन्दर दृश्यों, पहाड़ियों और मंदिरों के दर्शन के लिए लोग आते हैं। साथ ही लोग यहाँ के समुद्री तटों (Beach) का भी आनंद लेते हैं। तमिलनाडु को पूरा जानने से पहले आइए इसके इतिहास (Tamil Nadu History) को जान लेते हैं। 

तमिलनाडु का इतिहास (History of Tamil Nadu in Hindi) –

तमिलनाडु के इतिहास की बात करें तो इसका इतिहास बहुत पुराना है। तमिलनाडु पर चेर, चोल तथा पांड्य वंशो ने शासन किया है। इसके बाद जब भारत पर अंग्रेजों का शासन था तो तमिलनाडु राज्य को “मद्रास प्रेसिडेंसी” के नाम से जाना जाता था। और जब 1947 ई. में भारत आजाद हुआ तब मद्रास प्रेसिडेंसी को कई भागों में बाँट दिया गया, जिस कारण मद्रास एक अलग राज्य बन गया। फिर 1968 ई. में मद्रास का नाम बदल दिया गया और तमिलनाडु रख दिया गया।  

इसे भी पढ़े: केरल का इतिहास, संस्कृति और घूमने वाले प्रमुख पर्यटन स्थल – Kerala travel guide in Hindi

तमिलनाडु से जुड़े कुछ महत्वपूर्ण पॉइंट्स –

राज्य का नामतमिलनाडु
राजधानी का नामचेन्न्ई
कब स्थापना हुई1 नवंबर, 1956
क्षेत्रफललगभग 130058 वर्ग किलोमीटर
कुल जिले33
कुल जनसंख्यातकरीबन 7,21,38,958
जनसंख्या का घनत्व555
साक्षरता80.33%
बोली जाने वाली भाषाएंतमिल, तेलुगु, कन्नड़, मलयालम, उर्दू
किस लिए फेमस हैतमिलनाडु में मीनाक्षी मंदिर बहुत फेमस है।

तमिलनाडु की संस्कृति (Culture of Tamil Nadu in Hindi) –

तमिलनाडु अपनी प्राचीन संस्कृति को जीवित रखने के लिए जाना जाता है। यहाँ के लोग अपनी संस्कृति को बहुत अच्छे से निभाते हैं। यहाँ पर खाना केले के पत्तों पर परोसा जाता है। साथ ही नारियल का इस्तेमाल खाने को स्वादिष्ट बनाने में किया जाता है। तमिलनाडु के अधिकांश भागों में तमिल भाषा बोली जाती है। यहाँ के लोग हिंदी बहुत कम जानते हैं। यहां लोगों से संपर्क बनाने के लिए अंग्रेजी भाषा का उपयोग किया जाता है। इसके अलावा तेलुगु, मलयालम, और कन्नड़ भाषाएँ भी यहाँ बोली जाती हैं। 

तमिलनाडु के त्यौहार (Festivals of Tamil Nadu in Hindi) –

तमिलनाडु राज्य के लोग अपने पारम्परिक त्यौहारों को बहुत ही ख़ुशी और उल्लास के साथ मनाते हैं। यदि आप यहाँ जाने का Tour Plan कर रहे हैं तो आपको तमिलनाडु के त्यौहारों को करीब से देखने का मौका मिलेगा। चलिए जानते हैं यहाँ पर कौन कौन से त्यौहार मनाये जाते हैं –

पोंगल (Pongal) –

यह त्यौहार तमिलनाडु के प्रमुख त्यौहारों में से एक है, जो कि चार दिनों तक मनाया जाता है। इस त्यौहार को फसल उत्सव के रूप में सेलिब्रेट किया जाता है।

महामहम महोत्सव (Mahamaham Festival) –

तमिलनाडु का यह त्यौहार बहुत ही प्रसिद्ध है। इसे 12 वर्ष में एक बार मनाया जाता है। इसे तमिलनाडु के कुंभकोणम नामक गाँव में मनाया जाता है। इस त्यौहार पर महामहम नाम के टेंक से पानी का छिड़काव होता है, जिसमें लोग स्नान करते हैं। इस जल को बहुत पवित्र माना जाता है। इसलिए दूर दूर से लोग महामहम टेंक से स्नान करने के लिए आते हैं। 

नाट्यंजलि नृत्य महोत्सव (Natyanjali Dance Festival) –

यह त्यौहार पांच दिन तक मनाया जाता है। इसे महाशिव रात्रि के दिन मनाया जाता है। यह एक नृत्य का त्यौहार माना जाता है। यह त्यौहार भगवान नटराज को समर्पित रहता है। 

थिरुवियारु महोत्सव (Thiruvaiyaru Festival) –

यह त्यौहार तमिलनाडु के थिरुवयारु में मनाया जाता है। यह जनवरी के महीने में मनाए जाने वाला त्यौहार है। इसे प्रसिद्ध संगीतकार और संत त्यागराज के सम्मान में मनाया जाता है। 

चित्राथि महोत्सव (Chitrathi Festival) –

यह त्यौहार भी तमिलनाडु के प्रसिद्ध त्यौहारों में से एक है। यह त्यौहार तमिलनाडु के सभी मंदिरों में दस दिनों तक मनाया जाता है। 

इन त्यौहारों के अलावा भी तमिलनाडु के कुछ प्रसिद्ध त्यौहार हैं, जिन्हें बहुत उत्साह और पारम्परिक ढंग से मनाया जाता है, जैसे – 

  • थिपुसुम
  • टूरिस्ट फेयर
  • कार्थिगई दीपम 
  • जली कट्टू
  • रेशम महोत्सव
  • कवाड़ी महोत्सव
  • केप फेस्टिवल
  • आदि पेरुक्कू
  • समर फेस्टिवल 
  • विनायक चतुर्थी 
  • श्राइन वेलंकन्नी फेस्टिवल
  • साराल विज्हा 
  • वैकुंठ एकादशी  

तमिलनाडु का रहन सहन (Lifestyle of Tamil Nadu in Hindi) –

तमिलनाडु का रहन सहन बहुत ही सिम्पल है। यहाँ के लोग सुबह जल्दी उठते हैं। नाइटलाइफ आपको यहाँ पर बहुत कम देखने को मिलेगी। यहाँ आपको दिखावा बिलकुल भी देखने को नहीं मिलेगा। यहां के लोग जिस प्रकार अपना जीवन जीते हैं, वही दिखाते भी हैं। यहाँ के लोग शिक्षा को भी बहुत महत्त्व देते हैं। यहाँ के लोग बहुत मेहनती होते हैं। 

इसे भी पढ़ें: अरुणाचल प्रदेश का रहन सहन, इतिहास, संस्कृति, खान-पान, जीवन शैली, प्रमुख लोकनृत्य और घूमने वाले प्रमुख पर्यटन स्थल।

तमिलनाडु की पारंपरिक पोशाक (Traditional Dress of Tamil Nadu) –

तमिलनाडु की पारम्परिक वेशभूषा वहां की संस्कृति को दर्शाती है। यहां के लोगों की पोशाक देखने में बहुत ही सुन्दर होती है। लुंगी यहाँ पर बहुत प्रचलित है। यहाँ पर पुरुष शर्ट के साथ लुंगी या धोती पहनते हैं। जबकि महिलाएं साड़ी और ब्लाउज पहनती हैं। इसके अलावा अर्ध-साड़ी या फिर पावड़ा जैसी पारंपरिक पोशाक भी तमिलनाडु की लड़कियों द्वारा पहनी जाती है। यहाँ पर कांचीपुरम साड़ियां बहुत प्रसिद्ध है।  

तमिलनाडु का नृत्य (Dance of Tamil Nadu in Hindi) –

तमिलनाडु की नृत्य कला देश भर में प्रसिद्ध है। यहाँ के प्रमुख नृत्य इस प्रकार हैं –

भरतनाट्यम (Bharatanatyam) –

यह तमिलनाडु का प्रमुख लोक नृत्य है। यह नृत्य महिलाओं द्वारा किया जाता है। इस नृत्य को भारत का सबसे प्राचीन नृत्य भी माना गया है। इस नृत्य में शरीर के प्रत्येक अंग के हावभाव अद्भुत होते हैं। महिलाएं पारम्परिक पोशाक के साथ यह नृत्य करती हैं। 

करकट्टम (Karakattam) –

यह नृत्य भी तमिलनाडु का पारंपरिक नृत्य है। इस नृत्य को वर्षा की देवी “मारी अम्मन” को प्रसन्न करने के लिए किया जाता है। इस नृत्य में नर्तक अपने सिर पर मिटटी का बर्तन या फिर धातु का बर्तन रखकर नृत्य करता है, जिसमे संन्तुलन की जरुरत होती है।

कावड़ी आट्टम (Kavadi Aattam) –

इस नृत्य को पुरुषों द्वारा किया जाता है। यह नृत्य भगवान मुरुगन की पूजा में किया जाता है। 

देवराट्टम (Devarattam) –

 इस नृत्य को पहले युद्ध में जीत मिलने पर राजा और उसकी सेना के सामने किया जाता था। अब इस नृत्य को त्यौहारों और सामाजिक अवसरों पर किया जाता है। थप्पू मेलम, उरुमी मेलम और बांसुरी की धुन पर इस नृत्य को किया जाता है।

ओयिलट्टम (Oyilattam) –

इस नृत्य को पुरुष करते हैं। यह नृत्य भगवान सुब्रमण्य और उनकी पत्नी वल्ली की कथाओं को सुनाने हेतु किया जाता है। इस नृत्य को मंदिर के उत्सवों पर किया जाता है। 

इन मुख्य लोक नृत्यों के अलावा भी तमिलनाडु में कई लोक नृत्य किए जाते हैं, जैसे –

  • मायिल अटाम
  • काई सिलंबट्टम
  • कोलाट्टम
  • कुम्मी
  • पोइक्कल कुदिराई अट्टम
  • कझाई कोथु
  • ओट्टन कुथु
  • पम्पु अट्टम
  • पुलियाट्टम
  • शततम नृत्य
  • कूथू

तमिलनाडु का खान पान (Tamil Nadu Food in Hindi) –

आप तमिलनाडु का ट्रिप प्लान कर रहे हैं तो वहां पर आपको घूमने के साथ साथ वहां का खाना भी अच्छा लगेगा। तमिलनाडु के खाने का स्वाद अन्य राज्यों से अलग है, परन्तु बहुत ही स्वादिष्ट है। यहाँ के Famous Foods इस प्रकार हैं – 

बनाना बोंडा (Banana Bonda) –

यह तमिलनाडु के प्रसिद्ध व्यंजनों में से एक है। यह एक मीठी डिश होती है, जिसे चाय के साथ परोसा जाता है। 

लेमन राइस (Lemon Rice) –

इस डिश को बड़े तो बड़े बच्चे भी चाव से खाते हैं। यह चावल से बनी डिश होती है। 

नेई पायसम (Nei Payasam) –

इस डिश को त्यौहारों और विशेष अवसरों पर बनाया जाता है। इस डिश को भी चावल से तैयार किया जाया है।  

पोरियाल (Poriyal) –

यह एक प्रकार की सब्जी होती है, जिसे बहुत ही स्वादिष्ट तरीके से बनाया जाता है। 

पनियारम (Paniyaram) –

यह भी तमिलनाडु की प्रसिद्ध डिश है, जिसे चावल और काली दाल से बनाया जाता है।  

इन खानों के अलावा आप नीचे दी गयी डिशेज को भी वहां पर ट्राय कर सकते हैं –

  • इडली डोसा 
  • पोंगल
  • इडली और वड़ा 
  • नारियल की चटनी
  • सांभर
  • मुरुक्कू
  • रसम
  • उत्तपम
  • कूज़
  • सुंदल
  • फिल्टर कापी 

तमिलनाडु घूमने के लिए सबसे बेहतरीन समय (Best Time to Visit Tamil Nadu) –

यदि आप तमिलनाडु घूमने जाना चाहते हैं तो आपको अक्टूबर से मार्च के बीच में जाना चाहिए। यह मौसम तमिलनाडु घूमने के लिए बहुत अच्छा होता है। यहाँ पर गर्मी अधिक होती है। इस कारण गर्मी के दिनों में परेशानी अधिक होती है। यदि आप गर्मी के मौसम में वहां जाना चाहते हैं तो आपको तमिलनाडु के ऊटी जैसे हिल स्टेशनों पर जाना चाहिए। क्योंकि गर्मियों में यहाँ का तापमान अच्छा रहता है।   

तमिलनाडु में घूमने वाली जगह (Best Places to Visit in Tamil Nadu) –

तमिलनाडु में आपको बहुत सी जगहे मिल जाएगी, जहां आप घूम सकते हैं। लोग दूर दूर से इन Places को देखने के लिए आते हैं। यह जगहें कुछ इस प्रकार हैं –  

रामेश्वरम (Rameshwaram) –

यह बहुत ही प्रसिद्ध और धार्मिक जगह है। यहीं पर राम जी ने लंका जाने के लिए पुल बनाया था। पानी पर तैरता हुआ पत्थर भी आपको यहाँ पर देखने को मिल जायेगा।   

ऊटी (Ooty) –

ऊटी तमिलनाडु की सबसे खूबसूरत जगहों में से एक है। यहाँ के प्राकृतिक नजारे और ऊंची ऊँची पहाड़ियां किसी का भी मन मोह लेती हैं।

कन्याकुमारी (Kanyakumari) –

यह जगह “द लैंड एंड” के नाम से दुनिया भर में फेमस है। यहाँ पर प्राचीन मंदिर भी है। इसे देखने के लिए पर्यटक (Tourists) भारी संख्या में आते हैं। 

महाबलीपुरम (Mahabalipuram) –

यह जगह भी घूमने के लिए बहुत ही अच्छी है। यह जगह तमिलनाडु के चेंगलपट्टू जिले में है।

मदुरई (Madurai) –

विश्व प्रसिद्ध मीनाक्षी देवी मंदिर मदुरई में है। इसके अलावा तिरुमलाई नायक पैलेस भी आपको यहाँ पर देखने को मिल जायेगा। मदुरई को लोटस सिटी भी कहा जाता है। 

इन प्रसिद्ध जगहों के अलावा आप नीचे बताई गयी जगहों पर भी घूम सकते हैं, जैसे –

  • कोयंबटूर
  • चेन्नई
  • तिरुनेलवेली
  • धनुषकोडी
  • कांचीपुरम
  • कोडईकनाल
  • वेल्लोर 
  • पुडुचेरी 
  • मुदु मलाई
  • यनम
  • होगेनक्कल
  • नागपट्टिंम
  • तुतिकोरिन
  • त्रिची
  • पोलाची
  • टैंक्यु बार

 यह जगहे भी घूमने के लिए बहुत सुन्दर हैं।

तमिलनाडु कैसे जाएं (How to Reach Tamil Nadu) –

तमिलनाडु पहुंचने के लिए आपको ज्यादा परेशानी नहीं होगी। यहाँ तक पहुंचने के लिए कई तरह के साधन मौजूद हैं, जैसे –

सड़क मार्ग से (By Road) – यदि आप सड़क मार्ग से तमिलनाडु जाना चाहते हैं तो आपको इसके लिए बस से CMBT चेन्नई तक पहुंचना होगा। इसके बाद चेन्नई से आपको तमिलनाडु के जिस भी शहर में जाना है, वहां के लिए बस सेवाएं मिल जाएँगी। इसके अलावा आप निजी वाहन से भी तमिलनाडु पहुंच सकते हैं। 

ट्रेन मार्ग से (By Train) – यदि आप ट्रेन से तमिलनाडु जाना चाहते हैं तो आपको चेन्नई रेलवे स्टेशन पर पहुंचना होगा। वहां से आप तमिलनाडु के अन्य शहर के लिए जा सकते हैं। 

हवाई मार्ग से (By Airplane) – अगर आप हवाई जहाज से यात्रा (Travel) करना चाहते हैं तो आपको चेन्नई के हवाई अड्डे पर उतरना होगा। यहाँ से आप अन्य शहरों के लिए जा सकते हैं। आपको बता दें कि चेन्नई हवाई अड्डा भारत का तीसरा सबसे व्यस्त हवाई अड्डा है।

FAQs –

Q. तमिलनाडु में कौन–कौन से त्यौहार मनाए जाते हैं?

A. तमिलनाडु में पोंगल को बहुत ही धूमधाम के साथ मनाया जाता है। इसके अलावा महामहम महोत्सव, नाट्यंजलि नृत्य महोत्सव, थिरुवियारु महोत्सव, और चित्राथि जैसे त्यौहारों को भी बहुत ही हर्षोउल्लास के साथ मनाया जाता है। 

Q. तमिलनाडु का लोक नृत्य कौन सा है?

A. तमिलनाडु का मुख्य लोक नृत्य “भरतनाट्यम” है। इसके अलावा करगट्टम, कावड़ी आट्टम, देवराट्टम, ओयिलट्टम जैसे लोक नृत्य भी फेमस हैं। 

Q. तमिलनाडु में कौन सा खेल सबसे प्रमुख है?

A. तमिलनाडु का सबसे प्रमुख खेल कबड्डी है। 

Q. तमिलनाडु भारत में कहां पर स्थित है?

A. तमिलनाडु भारत के दक्षिण में स्थित है। खूबसूरत शहर चेन्नई तमिलनाडु की राजधानी है।  

Q. तमिलनाडु क्यों प्रसिद्ध है?

A. तमिलनाडु का मीनाक्षी मंदिर विश्व भर में प्रसिद्ध है।  

निष्कर्ष (Conclusion) –

इस आर्टिकल में हमने आपको तमिलनाडु के बारे में सब कुछ बताया है। आपने इस पोस्ट में तमिलनाडु के इतिहास, वहाँ की भाषाएं, तमिलनाडु की संस्कृति, तमिलनाडु के लोक नृत्य और तमिलनाडु में कौन कौन से त्यौहार मनाए जाते हैं आदि की जानकारी प्राप्त की है।

इसके अलावा आपने इस आर्टिकल में तमिलनाडु का रहन सहन, वहां के लोगों की पारम्परिक वेशभूषा, वहां का खान पान, वहां किस मौसम में जाना अच्छा है, तमिलनाडु में कहाँ कहाँ घूम सकते हैं, आप तमिलनाडु कैसे पहुंच सकते हैं इसके बारे में भी जाना। आशा है कि आपको तमिलनाडु से रिलेटेड ये सारी जानकारी पसंद आई होगी।

यदि आपको हमारा यह आर्टिकल अच्छा लगा हो तो आप इसे Social Media पर भी शेयर करें, Thanks!

One comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

श्रीलंका में घूमने वाले प्रमुख पर्यटन स्थल। भूटान में घूमने वाले प्रमुख पर्यटन स्थल | भूटान से 10 जुड़े रोचक तथ्य (Interesting facts About Bhutan) 10 ट्रेवल कंटेंट क्रिएटर जो महीनों का लाखों कमाते है। कैंची धाम – नीम करोली बाबा से अनसुलझे जुड़े रहस्य।