महाराष्ट्र का इतिहास, संस्कृति, खान-पान, और घूमने वाले प्रमुख पर्यटन स्थल। Maharashtra travel guide

जब आप कहीं घूमने का की योजना बना रहे हों और आपको ऐसी जगह मिल जाए जहां आपके पसंदीदा कलाकार भी रहते हों तो आप वहां जरूर जाना चाहेंगे। आपको बता दें कि इसके लिए आप महाराष्ट्र का ट्रिप प्लान कर सकते हैं। महाराष्ट्र के मुम्बई शहर में आपको कलाकारों के घर भी देखने को मिलेंगे। साथ ही आप वहां के प्राकृतिक नजारों का भी आनंद ले सकते हैं। इसके अलावा आप महाराष्ट्र के समुद्र और खानपान का मजा भी ले सकते हैं। महाराष्ट्र में घूमने के लिए बहुत कुछ है। यदि आप Tour पर जाने से पहले, जानना चाहते हैं कि आपको महाराष्ट्र में घूमने के लिए क्या क्या मिलेगा तो इस आर्टिकल को पूरा पढ़ें।   

यदि देखना चाहते हैं अपने पसंदीदा फ़िल्मी कलाकारों को, तो बनाएं महाराष्ट्र जाने का प्लान 

महाराष्ट्र एक ऐसा राज्य है जिसकी गिनती सबसे धनि राज्यों में की जाती है। साथ ही महाराष्ट्र जनसंख्या में देश का तीसरा सबसे बड़ा राज्य है। महाराष्ट्र की राजधानी मुम्बई है, जो अपनी सुंदरता और सिनेमा जगत के लिए जानी जाती है। फ़िल्मी सितारे ज्यादातर मुम्बई में ही रहते हैं। इसके अलावा महाराष्ट्र का पुणे शहर भी देश भर में प्रसिद्ध है। महाराष्ट्र को पूरा जानने के लिए पहले इसके इतिहास को जान लेते हैं। 

इसे भी पढ़ें: प्राचीन चीजों और लजीज खानों से है प्यार तो गुजरात जरूर जाएं- Gujarat travel guide in Hindi

महाराष्ट्र का इतिहास (History of Maharashtra Hindi) –

History of Maharashtra Hindi

1000 ईसा पूर्व पहले महाराष्ट्र में केवल खेती हुआ करती थी। फिर अचानक मौसम परिवर्तन के कारण यहां खेती को रोकना पड़ा। इस राज्य पर अनेक राजाओं ने शासन किया। बाद में शिवाजी महाराज ने मराठा साम्राज्य की स्थापना कर दी, जिससे महाराष्ट्र में मराठा साम्राज्य स्थापित हो गया। लेकिन वो भी अधिक समय तक महाराष्ट्र पर शासन नहीं कर पाए और 19वीं शताब्दी के बाद यह राज्य ब्रिटिश सरकार के अधीन हो गया।

ब्रिटिशो ने “बॉम्बे प्रेसीडेंसी” नाम का प्रशासनिक प्रांत बनाया। जब देश को आजादी मिली तब 1950 ई. में बॉम्बे को राज्य में बदल दिया गया। कई राज्यों को नए राज्य में मिलाया गया। 1 नवम्बर 1956 ई. को बॉम्बे राज्य में राजनितिक पुनर्गठन किया गया। इस पुनर्गठन में मध्य प्रदेश का कुछ भाग मिला लिया गया और हैदराबाद को हटा दिया गया। इस राज्य के उत्तर में ज्यादातर लोग गुजराती और दक्षिण में मराठी बोलते थे। इस कारण मराठी भाषी लोगों की मांग पर 1 मई 1960 ई. को बॉम्बे को महाराष्ट्र का हिस्सा बनाया गया और राज्य की राजधानी भी बना दी गयी। 1990 ई. में इस शहर का नाम मुंबई रखा गया। 

महाराष्ट्र से जुड़े कुछ महत्वपूर्ण पॉइंट्स –

शहर का नाममहाराष्ट्र
राजधानी का नाममुम्बई
कब स्थापना हुई1 मई 1960
क्षेत्रफललगभग 307713 वर्ग किलोमीटर
कुल जिले36
कुल जनसंख्यातकरीबन 11,23,72,972
जनसंख्या का घनत्व370
साक्षरता82.34%
बोली जाने वाली भाषाएंमराठी, हिंदी, अंग्रेजी
किस लिए फेमस हैअजंता और एलोरा की गुफाओं के लिए प्रसिद्ध है।

महाराष्ट्र की संस्कृति (Culture of Maharashtra in Hindi) –

महाराष्ट्र के लोग आज भी अपनी संस्कृति और परंपराओं को बनाये हुए हैं। यह राज्य मराठी भाषी राज्य है। इसलिए आपको यहाँ पर ज्यादातर मराठी संस्कृति देखने को मिलेगी। यहां के लोगों ने अपने त्यौहारों और नृत्यों के जरिये अपनी संस्कृति को जीवित रखा हुआ है। यदि आप महाराष्ट्र का Trip Plan कर रहे हैं तो आपको यहाँ पर महाराष्ट्र की संस्कृति भी देखने को मिल जाएगी, जो आपको काफी पसंद आने वाली है। 

महाराष्ट्र के त्यौहार (Festivals of Maharashtra in Hindi) –

महाराष्ट्र में त्यौहारों को बहुत धूमधाम के साथ मनाया जाता है। यहां पर सभी लोग मिल जुलकर त्यौहारों को सेलिब्रेट करते हैं। महाराष्ट्र के प्रमुख त्यौहार कुछ इस प्रकार हैं –

गुडी पडवा (Gudi Padwa) –

गुड़ी पडवा महाराष्ट्र के प्रमुख त्यौहारों में से एक है। यह पर्व हिन्दू कैलेंडर के अनुसार नए साल पर मनाया जाता है। इस पर्व में महाराष्ट्र की संस्कृति झलकती है। अच्छे अच्छे व्यंजन (Foods) और रंगोली बनाकर इस त्यौहार को मनाया जाता है। 

गणेश चतुर्थी (Ganesh Chaturthi) –

गणेश चतुर्थी महाराष्ट्र का सबसे प्रसिद्ध और धूमधाम से मनाए जाने वाला फेस्टिवल है। यह 11 दिनों तक चलता है। इसमें गणेश जी की पूजा अर्चना की जाती है। साथ ही गणेश जी की छोटी से लेकर बड़ी बड़ी प्रतिमाएं पंडाल में बैठायी जाती हैं।

जन्माष्टमी (Janmashtami) –

जन्माष्टमी भी महाराष्ट्र में बहुत ही अच्छे से मनाया जाता है। यह त्यौहार भगवान् कृष्ण के जन्मोत्सव के लिए मनाया जाता है। इस दिन वहां जगह जगह पर मटकी तोड़ प्रतियोगिता भी होती है। इसमें मटकी को बहुत ऊंचाई पर लटकाया जाता है और फिर ग्रुप बनाकर लोग इसे फोड़ते हैं।    

शिवाजी जयंती (Shivaji Jayanti) –

शिवाजी जयंती को भी महाराष्ट्र में बहुत हर्षोउल्लास के साथ मनाया जाता है। बच्चे से लेकर बड़े तक इस पर्व को मनाते हैं। इस त्यौहार को खासतौर से शिवाजी जयंती पर मनाया जाता है।   

पोला महोत्सव (Pola Mahotsav) –

यह पर्व फसल उत्सव के रूप में मनाया जाता है। इस दिन बैलों की पूजा की जाती है। 

इसके अलावा एलिफेंटा महोत्सव, पुणे महोत्सव, बाणगंगा महोत्सव, कालिदास समारोह, एलोरा-अजंता महोत्सव भी महाराष्ट्र में सेलिब्रेट किया जाता है।  

महाराष्ट्र का रहन सहन (Lifestyle of Maharashtra in Hindi) –

महाराष्ट्र के लोगों की सादगी आपको आकर्षित कर सकती है। यहाँ के रीती रिवाज भी बहुत अच्छे होते हैं, जो महाराष्ट्र की संस्कृति को दर्शाते हैं। आप यहाँ के मेलों और त्यौहारों में महाराष्ट्र के रीति-रिवाजों और परंपराओं को देख सकते हैं। महाराष्ट्रियों की जीवन शैली बहुत ही सरल होती है और वे कड़ी मेहनत में विश्वास करते हैं। यहाँ पर सभी धर्मो को मानने वाले लोग रहते हैं। 

महाराष्ट्र की पारंपरिक पोशाक (Traditional Costumes of Maharashtra in Hindi) – 

महाराष्ट्र की पारम्परिक वेशभूषा बहुत ही आकर्षक है। यहाँ पर पुरुष धोती और कुर्ता पहनते हैं। धोती के साथ ही यहां शर्ट भी पहना जाता है और पगड़ी भी पहनी जाती है। महिलाओं की पारंपरिक वेशभूषा नऊवारी और पैठणी है। यह पहनने में बहुत ही आकर्षक लगती है। साड़ी के साथ महिलाएं जो आभूषण पहनती हैं वो साड़ी की शोभा को और बढ़ा देते हैं। यदि आप महाराष्ट्र में घूमने जाते हैं तो वहां की पोशाक आपका मन मोह लेगी।            

महाराष्ट्र का नृत्य (Dance of Maharashtra in Hindi) –

महाराष्ट्र के लोक नृत्य की भी अपनी एक अलग पहचान है। यहाँ के लोक नृत्य किसी के भी मन को आनंदित कर सकते हैं। महाराष्ट्र के प्रमुख लोक नृत्य कुछ इस प्रकार हैं –

लावणी नृत्य (Lavani Dance) –

यह महाराष्ट्र का प्रमुख लोक नृत्य है। इस नृत्य को महिलाएं करती हैं। वो इस नृत्य को अपने पारम्परिक पोशाक में करती हैं। 

कोली नृत्य (Koli Dance) –

यह नृत्य महाराष्ट्र के मछुहारों द्वारा किया जाता है। साथ ही लोक गीत भी गाया जाता है। 

तमाशा नृत्य (Pageant Dance) –

यह भी महाराष्ट्र के लोक नृत्यों में से एक है। इस नृत्य में महाभारत और रामायण के विषयों को लेकर नृत्य किया जाता है।  

डिंडी नृत्य (Dindi Dance) –

यह नृत्य कार्तिक मास की एकादशी के दिन किया जाता है। यह नृत्य भगवान् कृष्ण को समर्पित रहता है। यह नृत्य को कार्तिक मास की एकादशी के दिन किया जाता है। 

इसके अलावा धनगरी गाजा, पोवदास जैसे नृत्य भी यहां पर किए जाते हैं। आप अगर महाराष्ट्र के Tour पर जाते हैं तो आपको इन नृत्यों को देखकर बहुत मजा आने वाला है।                         

महाराष्ट्र का खान पान (Famous Food of Maharashtra in Hindi) –

महाराष्ट्र अपने तीखे और मसालेदार खाने के लिए प्रसिद्ध है। यहाँ खाना बहुत ही लजीज होता है। आप भी यहाँ के खाने का स्वाद ले सकते हैं। यहाँ के स्वादिष्ट और फेमस फूड्स कुछ इस प्रकार हैं –

  • वड़ा पाव
  • मिसल पाव 
  • मोदक 
  • पावभाजी 
  • फिश करी
  • श्री खंड  
  • महाराष्ट्रीयन कढ़ी
  • थालीपीठ 
  • साबूदाना खिचड़ी 
  • महाराष्ट्रियन दाल
  • पूरन पोली 

आप कभी भी महाराष्ट्र जाएं तो इन खानों का स्वाद जरूर लें।      

महाराष्ट्र घूमने जाने का सबसे बेहतरीन समय (Best Time to Visit Maharashtra) – 

कहीं घूमने जाने से पहले यदि वहां के मौसम के बारे में भी पता चलता है तो सफर में चार चाँद लग जाते हैं। आपको बता दे कि अक्टूबर से मार्च का समय महाराष्ट्र घूमने के लिए बहुत अच्छा होता है। यदि आप Trip Plan कर रहे हैं तो मौसम का भी ख्याल रखें। ऐसा करने से आपकी यात्रा अच्छी रहेगी।  

महाराष्ट्र में घूमने लायक जगह (Best Places to Visit in Maharashtra) –

महाराष्ट्र में घूमने के लिए ऐसी ऐसी जगहे है जो देखने में बहुत खूबसूरत है। उनमे से कुछ जगहे इस प्रकार हैं – 

  • लोनावाला 
  • अजंता और एलोरा गुफा
  • शिरडी
  • पंचगनी  
  • महाबलेश्वर 
  • ताडोबा राष्ट्रीय उद्यान
  • औरंगाबाद
  • अमरावती 
  • रत्नागिरी
  • मुम्बई 
  • पुणे 
  • नासिक 

इसे भी पढ़ें: Top 10 tourist places in Pune – पुणे में घूमने वाले प्रमुख पर्यटन स्थल

महाराष्ट्र कैसे जाएं (How to Reach Maharashtra) – 

महाराष्ट्र जैसे राज्य में पहुंचने के लिए कई साधन हैं। इसलिए आपको यहाँ पहुंचने के लिए साधन ढूंढने में परेशानी नहीं होगी। आप अपनी सुविधा के मुताबिक मार्ग को चुन सकते हैं, जैसे –

सड़क मार्ग द्वारा (By Road) – राज्य द्वारा चलने वाली सभी बसे महाराष्ट्र के सभी शहरों और गावों तक जाती हैं। इसलिए आप अपनी सुविधा से बस या फिर निजी वाहन की मदद से महाराष्ट्र पहुंच सकते हैं। 

रेल मार्ग द्वारा (By Train) – रेल से यात्रा करना बहुत comfortable होता है। इसलिए ज्यादातर लोग ट्रेन से सफर करना पसंद करते हैं। यदि आप ट्रेन से महाराष्ट्र पहुंचना चाहते हैं तो आपको बता दे कि महाराष्ट्र में रेल नेटवर्क बहुत अच्छा है। यहाँ पर सभी राज्यों से ट्रेन जाती है। महाराष्ट्र में लगभग 450 रेलवे स्टेशन हैं। इसलिए आप भी अपने Place से महाराष्ट्र के जिस शहर में जाना चाहते है वहां का टिकट बुक कर सकते हैं। 

हवाई मार्ग द्वारा (By Airplane) – महाराष्ट्र में डोमेस्टिक और इंटरनेशनल दोनों तरह के हवाई अड्डे हैं। बता दे कि मुम्बई का छत्रपति शिवाजी अंतर्राष्ट्रीय हवाई अड्डा, भारत देश का दूसरा सबसे व्यस्त हवाई अड्डा है। इसलिए आपको महाराष्ट्र के जिस भी शहर में जाना है वहां के लिए एयर टिकट सर्च करके बुक कर सकते हैं।   

इसे भी पढ़ें: भारत में सबसे ऊंचाई (highest waterfall in india) पर स्थित जलप्रपात

FAQs –

Q.महाराष्ट्र में कौन–कौन से त्यौहार मनाए जाते हैं?

A.महाराष्ट्र में “गणेश चतुर्थी” को बहुत ही धूमधाम के साथ मनाया जाता है। इसके अलावा गुडी पडवा, जन्माष्टमी, शिवाजी जयंती, पोला महोत्सव जैसे त्यौहारों को भी यहां पर Celebrate किया जाता है। 

Q. महाराष्ट्र का लोक नृत्य कौन सा है?

A. महाराष्ट्र का मुख्य लोक नृत्य “लावणी नृत्य” है। इसके अलावा तमाशा, कोली नृत्य, डिंडी नृत्य भी महाराष्ट्र के लोक नृत्य हैं। 

Q. महाराष्ट्र में कौन सा खेल सबसे प्रमुख है?

A. महाराष्ट्र का सबसे प्रमुख खेल क्रिकेट है। 

Q. महाराष्ट्र भारत में कहां पर स्थित है?

A.महाराष्ट्र भारत के पश्चिमी और मध्य भाग में बसा हुआ है। इसकी राजधानी मुम्बई है।  

Q. महाराष्ट्र क्यों प्रसिद्ध है?

A. महाराष्ट्र अजंता और एलोरा की गुफाओं के लिए दुनिया भर में प्रसिद्ध है।  

इसे भी पढ़ें: भारत में स्थित 12 ज्योतिर्लिंग कहां कहां है ?

निष्कर्ष (Conclusion) – 

इस आर्टिकल में हमने आपको महाराष्ट्र के बारे में पूरी जानकारी दी है। इस पोस्ट में आपने जाना कि महाराष्ट्र का इतिहास क्या है, महाराष्ट्र में कौन कौन सी भाषाएं बोली जाती हैं और महाराष्ट्र की संस्कृति क्या है। इसके अलावा आपने यह भी पढ़ा है कि वहां का खानपान और रहन सहन कैसा है।

महाराष्ट्र में कौन कौन से त्यौहार मनाए जाते हैं, वहां के लोगों का पहनावा कैसा है, आपको महाराष्ट्र किस मौसम में जाना चाहिए, आप कहाँ कहाँ घूम सकते हैं, महाराष्ट्र कैसे पहुंचे इत्यादि। आशा है कि आपको केरल से जुड़ी सारी जानकारी Helpful लगी होगी। यदि आपको हमारा यह आर्टिकल पसंद आया हो तो आप इसे सोशल मिडिया पर भी शेयर करें,

Thanks!

इसे भी पढ़ें: सिक्किम का सबसे खतरनाक और खूबसूरत पर्यटन स्थल Nathula pass (नाथुला पास)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

श्रीलंका में घूमने वाले प्रमुख पर्यटन स्थल। भूटान में घूमने वाले प्रमुख पर्यटन स्थल | भूटान से 10 जुड़े रोचक तथ्य (Interesting facts About Bhutan) 10 ट्रेवल कंटेंट क्रिएटर जो महीनों का लाखों कमाते है। कैंची धाम – नीम करोली बाबा से अनसुलझे जुड़े रहस्य।